मीडिया के कार्य – Functions of Media in Hindi

मीडिया के कार्य क्या – क्या हैं? हम सभी जानते हैं कि जन संचार एक समय में प्रौद्योगिकी के कुछ रूपों के माध्यम से बड़ी संख्या में दर्शकों को संदेश साझा करने की एक प्रक्रिया है। और प्रौद्योगिकी के कुछ रूपों ने मीडिया में संदेश फैलाने के लिए उपयोग किया।

मीडिया के कार्य - Functions of Media in Hindi

समाज में मीडिया की क्या भूमिका है?

समाज में मीडिया की भूमिका बहुत महत्वपूर्ण है। यह समाचार, जानकारी, विचार, और विभिन्न विषयों पर जनता को जोड़ता है। मीडिया के माध्यम से हम देश और विदेश की गतिविधियों के बारे में जानकारी प्राप्त करते हैं और अपने विचारों को साझा करते हैं। इससे समाज में जागरूकता बढ़ती है और लोगों की सोच विकसित होती है।

समाचार पत्रिकाएं, टीवी, रेडियो, इंटरनेट, सोशल मीडिया आदि मीडिया के माध्यम से समाज के लोग एक-दूसरे से जुड़ते हैं और दूरदर्शिता प्रदान करते हैं। इसलिए, मीडिया समाज के विकास में महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है।

जब रिपोर्ट की जा रही है तो समाज के सभी तबके को मीडिया में समान रूप से व्यवहार किया जाता है?

मीडिया का परिचय

मीडिया का दो तरह से विश्लेषण किया जाता है, एक सूचनात्मक पहलू के रूप में और दूसरा मनोरंजन के रूप में। अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता पर आमतौर पर मीडिया में सवाल उठाया जाता है कि मीडिया को ‘मुक्त’ कैसे किया जाये? क्या मीडिया हमेशा नियंत्रित नहीं होता है?

अक्सर यह धारणा है कि मीडिया एक शक्तिशाली उपकरण है, जिस को समाज में होने वाले सभी गलत कार्यों के लिए दोषी ठहराया जाता है। हम जो कुछ कागजों में पढ़ते हैं और टेलीविजन पर देखते हैं वह आमतौर पर हम मानते हैं।

यह अध्ययन इकाई मीडिया के कार्यों और समाज में इसकी भूमिका क्या होनी चाहिए इस पर केंद्रित है।

मीडिया के कार्य

मीडिया के मुख्य कार्य हैं – वास्तविकता के मुद्दों पर समाज को शिक्षित और सूचित करना और मनोरंजन करना। यह मीडिया को समाज के व्यक्तियों के लिए सांस्कृतिक विकास में योगदान देता है।

  • समाज और दुनिया में होने वाले घटनाओं और स्थितियों के बारे में जानकारी प्रदान करना।
  • सत्ताधारी और जनता के संबंधों को इंगित करना।
  • नवाचार, अनुकूलन और प्रगति को सुगम बनाना।
  • घटनाओं और सूचनाओं के अर्थ पर व्याख्या और टिप्पणी करना।
  • अलग-अलग गतिविधियों का समन्वय करना।
  • सर्वसम्मति निर्माण में योगदान करना।
  • सामाजिक तनाव को कम करना।
  • युद्ध, राजनीति और आर्थिक विकास जैसे मुद्दों में सामाजिक निष्पक्षता प्रदान करना, आदि।
  • राजनीतिक घटनाक्रम की जानकारी देना।
  • राजनीतिक निर्णयों के बारे में जनता की राय का मार्गदर्शन करना।
  • राजनीतिक विकास और निर्णयों के बारे में अलग-अलग विचार व्यक्त करना।
  • राजनीतिक घटनाक्रम और फैसलों का विश्लेषण करना।

इस प्रकार, मीडिया प्रमुख सामाजिककरण और वैचारिक उपकरणों के रूप में समाज के महत्वपूर्ण कार्यों की समीक्षा के लिए एक संरचित ढांचा प्रदान करते हैं।

मीडिया के बहुआयमी कार्य निम्न प्रकार के हैं

1. जानकारी (Information)

सूचना भेजना और साझा करना मीडिया का प्रमुख कार्य है। चूंकि जानकारी ज्ञान है और ज्ञान शक्ति है, इसलिए मीडिया एक प्रामाणिक दर्शकों के लिए विभिन्न घटनाओं और स्थितियों के बारे में प्रामाणिक वस्तुओं के रूप में प्रामाणिक और समय पर तथ्यों और विचारों की पेशकश करता है।

जनसंचार माध्यमों द्वारा दी गई सूचनाओं पर विचार किया जा सकता है, उद्देश्य, व्यक्तिपरक, प्राथमिक और माध्यमिक। मीडिया के जानकारीपूर्ण कार्य भी दर्शकों को उनके आसपास होने वाली घटनाओं के बारे में बताते हैं और सच्चाई पर आते हैं। मीडिया ज्यादातर सूचनाओं को रेडियो, टीवी, साथ ही समाचार पत्र या पत्रिकाओं के स्तंभों पर प्रसारित समाचार के माध्यम से प्रसारित करता है।

2. शिक्षा (Education)

मीडिया शिक्षा और जानकारी प्रदान करता है। यह सभी स्तरों के लोगों को विभिन्न विषयों में शिक्षा प्रदान करता है। वे विभिन्न प्रकार की सामग्री का उपयोग करके प्रत्यक्ष या अप्रत्यक्ष रूप से लोगों को शिक्षित करने का प्रयास करते हैं। उदाहरण के लिए, एक दूरस्थ शिक्षा कार्यक्रम एक प्रत्यक्ष दृष्टिकोण है।

नाटक, वृत्तचित्र, साक्षात्कार, फीचर कहानियां और कई अन्य कार्यक्रम लोगों को अप्रत्यक्ष रूप से शिक्षित करने के लिए तैयार किए जाते हैं। विशेष रूप से विकासशील देश में, मास मीडिया का उपयोग जन जागरूकता के लिए प्रभावी उपकरण के रूप में किया जाता है।

3. मनोरंजन (Entertainment)

मीडिया का अन्य महत्वपूर्ण कार्य मनोरंजन है। इसे मीडिया के सबसे स्पष्ट और अक्सर उपयोग किए जाने वाले फ़ंक्शन के रूप में भी देखा जाता है। दरअसल, मनोरंजन एक तरह का प्रदर्शन है जो लोगों को आनंद प्रदान करता है। मीडिया लोगों को मनोरंजन प्रदान करके इस कार्य को पूरा करता है।

समाचार पत्र और पत्रिकाओं, रेडियो, टेलीविजन और ऑनलाइन माध्यम अपने दर्शकों का मनोरंजन करने के लिए कहानियों, फिल्मों, धारावाहिकों और कॉमिक्स की पेशकश करते हैं। खेल, समाचार, फिल्म समीक्षा, कला और फैशन अन्य उदाहरण हैं। यह दर्शकों के मनोरंजन और आराम के समय को अधिक मनोरंजक और मजेदार बनाता है।

4. प्रोत्साहन (Persuasion)

यह मास मीडिया का एक और कार्य है। अनुनय में दूसरों के दिमाग पर प्रभाव बनाना शामिल है। मास मीडिया दर्शकों को विभिन्न प्रकार से प्रभावित करता है। मीडिया कंटेंट राय बनाता है और जनता के दिमाग में एजेंडा सेट करता है। यह वोटों को प्रभावित करता है, व्यवहार को बदलता है और व्यवहार को नियंत्रित करता है।

संपादकीय, लेखों, टिप्पणियों और दूसरों के बीच का उपयोग करते हुए, मास मीडिया दर्शकों को राजी करता है। हालांकि, सभी दर्शकों को इसके बारे में अच्छी तरह से पता नहीं है। उनमें से कई अनजाने में इसके प्रति प्रभावित या प्रेरित हो जाते हैं। विज्ञापन एक उदाहरण है जिसे मनाने के लिए डिज़ाइन किया गया है।

5. निगरानी (Surveillance)

निगरानी अवलोकन निरूपित करता है। यहां अवलोकन का मतलब है समाज को करीब से देखना। जनसंचार माध्यमों का कार्य समाज को बारीकी से और निरंतर निरीक्षण करना है और संभावित नुकसान को कम करने के लिए भविष्य में होने वाले जन दर्शकों के लिए धमकी भरे कार्यों के बारे में चेतावनी देना है।

इसी तरह, मास मीडिया भी समाज में हो रहे दुराचार के बारे में संबंधित प्राधिकरण को सूचित करता है और समाज में बड़े पैमाने पर दर्शकों के बीच दुर्भावना को हतोत्साहित करता है। चेतावनी या खबरदार निगरानी तब होती है जब मीडिया। हमें तूफान से होने वाले खतरों के बारे में सूचित करें, ज्वालामुखियों का उन्मूलन, आर्थिक स्थिति में गिरावट, बढ़ती मुद्रास्फीति या सैन्य हमले।

ये चेतावनी तात्कालिक खतरों या पुरानी धमकियों के बारे में हो सकती है। इसी तरह, बढ़ते वनों की कटाई, नशीली दवाओं के दुरुपयोग, लड़कियों की तस्करी, अपराधों आदि की खबरें भी प्रसारित की जाती हैं जो समाज की शांति और सुरक्षा को नुकसान पहुंचा सकती हैं। फिल्मों के बारे में समाचार स्थानीय सिनेमाघरों, शेयर बाजार की कीमतों, नए उत्पादों, फैशन विचारों, व्यंजनों, और इतने पर साधन निगरानी के उदाहरण हैं।

6. व्याख्या (Interpretation)

मास मीडिया सिर्फ तथ्यों और आंकड़ों की आपूर्ति नहीं करता है, बल्कि घटनाओं और स्थितियों की व्याख्या और व्याख्या भी करता है। मीडिया वास्तविकता को स्पष्ट करने के लिए सूचनाओं के परस्पर संबंध और व्याख्या करने के लिए विभिन्न स्पष्टीकरण प्रस्तुत करता है। सामान्य रिपोर्टिंग के विपरीत, व्याख्या कार्य ज्ञान प्रदान करते हैं। समाचार विश्लेषण, कमेंट्री, संपादकीय और कॉलम व्याख्यात्मक सामग्री के कुछ उदाहरण हैं।

7. समाज को एक साथ जोड़ना (Connecting society together)

मीडिया का कार्य समाज के विभिन्न तत्वों को एक साथ जोड़ना है जो सीधे जुड़े हुए नहीं हैं। उदाहरण के लिए: बड़े विज्ञापन विक्रेताओं के उत्पादों के साथ खरीदारों की जरूरतों को जोड़ने का प्रयास करते हैं। इस तरह, मीडिया विभिन्न समूहों के बीच एक सेतु बन जाता है, जिनका सीधा संबंध हो भी सकता है और नहीं भी।

8. समाजीकरण (Socialization)

समाजीकरण संस्कृति का संचरण है। मीडिया समाज का प्रतिबिंब है। वे लोगों, विशेषकर बच्चों और नए-नए लोगों का सामाजिकरण करते हैं। समाजीकरण एक प्रक्रिया है जिसके द्वारा, लोगों को उन तरीकों से व्यवहार करने के लिए बनाया जाता है जो उनकी संस्कृति या समाज में स्वीकार्य हैं।

इस प्रक्रिया के माध्यम से, हम सीखते हैं कि अधिक अर्थों में हमारे समाज या मानव समाज के सदस्य कैसे बनें। हालांकि समाजीकरण मीडिया की प्रक्रिया हमारे व्यवहार, आचरण, दृष्टिकोण और विश्वासों को आकार देने में मदद करती है। समाजीकरण की प्रक्रिया लोगों को करीब लाती है और उन्हें एक एकता में बांध देती है।

मीडिया का मानव जीवन और समाज पर प्रभाव

FAQs (अक्सर पूछे जाने वाले सवाल)

प्रश्न 1: दुनिया की पहली सोशल मीडिया साइट कौन सी थी?

उत्तर: दुनिया की पहली सोशल मीडिया साइट “सिक्को” (Six Degrees) थी, जो 1997 में शुरू हुई थी।

प्रश्न 2: दुनिया में नंबर 1 इंस्टाग्राम फॉलोअर्स कौन है?

उत्तर: वर्तमान में, दुनिया में नंबर 1 इंस्टाग्राम फॉलोअर्स का पता नहीं है, क्योंकि इंस्टाग्राम पर फॉलोअर्स की संख्या बदलती रहती है।

प्रश्न 3: बेस्ट सोशल मीडिया कौन से हैं?

उत्तर: बेस्ट सोशल मीडिया की जाँच करने के लिए, हमें उनकी उपयोगिता, पॉपुलैरिटी, और उपयोगकर्ता के प्रतिसाद पर ध्यान देना होगा। कुछ लोकप्रिय सोशल मीडिया प्लेटफ़ॉर्म हैं फेसबुक, यूट्यूब, व्हाट्सएप, इंस्टाग्राम, और ट्विटर।

प्रश्न 4: भारत में इंस्टाग्राम पर कौन नंबर 1 है?

उत्तर: भारत में इंस्टाग्राम पर नंबर 1 उपयोगकर्ता का नाम अभी तक ज्ञात नहीं है, क्योंकि इंस्टाग्राम पर फॉलोअर्स की संख्या बदलती रहती है।

प्रश्न 5: मीडिया का अर्थ क्या होता है?

उत्तर: मीडिया शब्द से संबंधित अर्थ है – जो जनता को जानकारी, समाचार, विचार, और मनोरंजन प्रदान करता है।

प्रश्न 6: मीडिया का आविष्कार किसने किया था?

उत्तर: मीडिया का आविष्कार मानव इतिहास में बहुत पहले हुआ था। पुरातन समय से ही समाचार पत्रिकाएं, रेडियो, और अख़बार जनता को जानकारी प्रदान करते आए हैं।

प्रश्न 7: मीडिया का उदाहरण क्या है?

उत्तर: मीडिया के उदाहरण शामिल हैं – अख़बार, टीवी, रेडियो, समाचार पत्रिकाएं, इंटरनेट, और सोशल मीडिया।

प्रश्न 8: मीडिया का मुख्य उद्देश्य क्या है?

उत्तर: मीडिया का मुख्य उद्देश्य समाचार, जानकारी, विचार, और मनोरंजन प्रदान करना है। यह जनता को जागरूक करता है और विभिन्न विषयों पर चर्चा को बढ़ावा देता है।

प्रश्न 9: मीडिया का हमारे जीवन में क्या उपयोग है?

उत्तर: मीडिया हमारे जीवन में बहुत महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है। इसके माध्यम से हम देश और विदेश की गतिविधियों से जुड़ सकते हैं और नई जानकारी प्राप्त कर सकते हैं।

प्रश्न 10: मीडिया की विशेषताएं क्या हैं?

उत्तर: मीडिया की विशेषताएं इसकी प्रसारण शक्ति, विभिन्न माध्यमों के माध्यम से पहुंच, और जनता को सूचना प्रदान करने की क्षमता है।

प्रश्न 11: मीडिया की शुरुआत कब हुई?

उत्तर: मीडिया की शुरुआत मानव इतिहास के प्राचीन समय से ही हुई थी, जब लोग विभिन्न समाचार पत्रिकाएं और अख़बार पढ़ते थे।

प्रश्न 12: मीडिया के तीन मुख्य प्रकार कौन से हैं?

उत्तर: मीडिया के तीन मुख्य प्रकार हैं – प्रिंट मीडिया (अख़बार और समाचार पत्रिकाएं), इलेक्ट्रॉनिक मीडिया (टीवी और रेडियो), और डिजिटल मीडिया (इंटरनेट और सोशल मीडिया)।

प्रश्न 13: मीडिया कैसे काम करता है?

उत्तर: मीडिया समाचार, जानकारी, विचार, और मनोरंजन को रिपोर्ट करता है और उन्हें लोगों तक पहुंचाता है। यह रिपोर्टिंग, लेखन, संपादन, और प्रसारण के माध्यम से काम करता है।

प्रश्न 14: मीडिया वाले कैसे बनते हैं?

उत्तर: मीडिया में करियर बनाने के लिए व्यक्ति रिपोर्टिंग, लेखन, संपादन, और प्रसारण के क्षेत्र में पढ़ाई और अनुभव कर सकते हैं।

प्रश्न 15: मीडिया शब्द कहां से आया है?

उत्तर: मीडिया शब्द लैटिन शब्द “मीडियम” से आया है, जिसका अर्थ है “बीच” या “मध्य”।

अंतिम शब्द

मीडिया का काम है समाचार, जानकारी, विचार और अन्य सामग्री को लोगों तक पहुंचाना। वे देश और विदेश की घटनाओं, राजनीति, सामाजिक मुद्दे, खेल, मनोरंजन और विज्ञान-प्रौद्योगिकी से जुड़ी जानकारी प्रसारित करते हैं।

मीडिया के माध्यम से लोग अपने विचार और धारणाओं को भी साझा करते हैं। समाज में जागरूकता बढ़ती है और लोगों की सोच विकसित होती है। मीडिया विभिन्न रूपों में है, जैसे टीवी, रेडियो, समाचार पत्रिकाएं, इंटरनेट और सोशल मीडिया।

इसके माध्यम से लोग एक-दूसरे से जुड़ते हैं और जानकारियां प्राप्त करते हैं। मीडिया समाज के विकास में महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है।दोस्तों यदि आपको यह पोस्ट अच्छा लगा हो तो सोशल मीडिया पर शेयर जरुरु कर दें और यदि कोई प्रश्न होतो आवश्यक पूछे

Similar Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *