साक्षात्कार के प्रश्न उत्तर और पर्सनल इंटरव्यू की तैयारी 2020 में कैसे करें : – दो या दो से अधिक व्यक्तियों के बीच बातचीत एवं विचारों का आदान-प्रदान साक्षात्कार (Interview) कहलाता है। इसमें एक या कई व्यक्ति किसी एक व्यक्ति से प्रश्न पूछते हैं और वह व्यक्ति इन प्रश्नों के जवाब देता है या इन पर अपनी राय व्यक्त करता है।

चाहे प्रतियोगी परीक्षाएं हों या प्राइवेट सेक्टर में जॉब, ज्यादातर उम्मीदवारों को चयन प्रक्रिया में इंटरव्यू यानी पर्सनैलिटी टेस्ट का चरण ही सबसे टफ लगता है। इसका कारण है, ज्ञान होने के बावजूद आत्मविश्वास में कमी और निर्णय क्षमता न होने के चलते इंटरव्यू पैनल को ठीक से उत्तर न दे पाना। अगर आप भी इंटरव्यू को लेकर नर्वस रहते हैं, तो कुछ कॉमन प्रश्न और उनके आदर्श उत्तर जानकर अपनी तैयारी कर सकते हैं।

साक्षात्कार

किसी भी इंटरव्यू में मौजूद पैनल उम्मीदवारों की कम्युनिकेशन स्किल्स, आत्मविश्वास और इंटेलिजेंस को परखता है। इसीलिए इस स्टेज की तैयारी करते समय उम्मीदवारों को अपनी पर्सनल ट्रेट्स, एपियरेंस और स्पीकिंग स्किल्स पर ध्यान देना चाहिए। आम तौर पर इंटरव्यू में पूछे जाने वाले सवाल जॉब स्पेसिफिक होते हैं,

लेकिन कुछ कॉमन सवाल हर इंटरव्यू में पूछे जाते हैं। हम ऐसे ही कॉमन इंटरव्यू क्वेश्चन्स और उनके आन्सर्स के बारे में बता रहे हैं, जिनकी तैयारी करके आप इंटरव्यू में सफल हो सकते हैं।

हम यहां आपको इंटरव्यू में पूछे जाने वाले कुछ आम सवाल और उनके जवाब बता रहे हैं. इंटरव्यू लेने वाले को जब आप हमारे बताए टिप्स के मुताबिक जवाब देंगे तो समझिए कि आपकी बात काफी हद तक बन सकती है.

खुद के बारे में कुछ बताएं

आमतौर पर इंटरव्यू में सबसे पहले यही प्रश्न पूछा जाता है कि आप अपने बारे में कुछ बताएं. इसके लिए कुछ तैयारी कर लें. ऐसा ना हो आप बातों को रिपीट कर रहे हों. कोशिश करें कि जो काम आप जानते हैं उन्हीं के बारे में बताएं. यह ध्यान रहे कि उन बातों और काम को ज्यादा फोकस करके बताएं जिस पद (काम) के लिए आप नौकरी पाने गए हैं. पहले से किए कामों को बताते हुए वर्तमान में जो काम आप कर रहे हैं उन्हें बताते हुए बात खत्म करें.

पिछली नौकरी क्यों छोड़ी?

ऐसे प्रश्नों का सकारात्मक जवाब दें. उस नौकरी में कोई दिक्कत रही हो तो उसका जिक्र ना करें या फिर उसे हल्के में बताएं. जो भी बताएं उसे हंसमुख होकर बताएं और सकारात्मक मोड़ पर लाकर बात खत्म करें जैसे कि मुझे दूसरी कंपनी में अवसर मिला, कोई स्पेशल काम का अवसर मिल गया था या कोई अन्य सकारात्मक जवाब.

कितने साल काम का अनुभव

जिस पद के लिए आप इंटरव्यू देने जा रहे हैं उससे संबंधित पुराने अनुभवों के बारे में बताएं. अगर पद से संबंधित कोई अनुभव नहीं है तो उससे संबंधित कार्यों का जिक्र करें.

आपके बारे में सहयोगी की राय

अपने सहयोगियों के कोई एक-दो बातें याद रखें. ये बातें बयान के रूप में भी हो सकते हैं. सहयोगियों के बीच आपकी बारे में होने वाली बातें जैसे की आप कर्मठ हैं, मेहनती हैं, ईमानदार हैं आदि का जिक्र करें.

हमारे संस्थान के बारे में क्या जानते हैं?

इसके लिए आपको थोड़ा रिसर्च करके जाना होगा. जैसे कि जिस कंपनी (संस्थान) में आप जाना चाहते हैं वह किस तरह का काम करती है, मार्केट में उसके कंपीटीटर (प्रतिस्पर्धी) कौन हैं, मार्केट में संस्थान को लेकर क्या नजरिया है. संस्थान को और आगे ले जाने में आप किस तरह की भूमिका निभाएंगे. वे कौन से काम आप जानते हैं जिनके अनुभव से आप कंपनी को और बेहतर बना सकती हैं.

क्यों जुड़ना चाहते हैं?

कंपनी के बारे में जुटाई गई जानकारी के मद्देनजर सोच-समझकर इस प्रश्न का जवाब दें. जवाब में सच्चाई होना जरूरी है, नहीं तो आपकी झूठी बात यहां तुरंत पकड़ में आ जाएगी. इसे कुछ इस तरह से पेश करें कि लगे आप इस संस्थान में लंबे समय तक जुड़ने के लिए आए हों.

संस्थान में किसी को जानते हैं

हर संस्थान की अपनी पॉलिसी होती है. इस प्रश्न का जवाब देने से पहले यह जान लें कि इस संस्थान में जानकारों (दोस्तों, रिश्तेदारों) के साथ काम करने को लेकर क्या नीतियां हैं. वैसे अपने किसी जानकार का नाम बताने में सावधानी ही बरतें तो अच्छा रहेगा.

काम को लेकर आपकी सोच

इंटरव्यू लेने वाला लंबा जवाब सुनना नहीं चाहेगा. क्या आप निश्चित तौर पर यही नौकरी पाना चाहते हैं? अगर हां. तो ऐसे प्रश्नों के लिए बेहतर जवाब होता है कि संस्थान के लिए जितना बेहतर हो सके उतना बेहतर काम करूंगा. मैं यहां रिटायर्ड होने तक काम करना चाहूंगा, बशर्ते कि कंपनी को मेरी जरूरत हो.

संस्थान आपको क्यों ले?

आप उन्हें बताएं कि आपको जो काम आता है उसकी संस्थान में जरूरत है और आप अपना अनुभव संस्थान से साथ साझा कर संस्थान को और सफलता की राह पर ले जा सकते हैं. जब आप अनुभव की बात करें तो किसी दूसरे आवेदक से तुलना ना करें. हो सके तो संस्थान को आगे बढ़ाने वाले कुछ बिंदुओं पर अपने विचार रख सकते हैं.

आपका सबसे मजबूत पक्ष क्या है?

जवाब कई हो सकते हैं लेकिन सकारात्मक जवाब ही दें. आपके काम करने की क्षमता, परेशानियों को दूर करने में कुशलता, दबाव में काम करने की क्षमता, प्रोफेशनल अनुभव, लीडरशिप स्किल और सकारात्मक नजरिया.

कितनी सैलरी की उम्मीद

यह प्रश्न पूछा ही जाता है. इसका बड़े ही चतुराई से जवाब देना होता है. इसलिए पहले इसका जवाब ना दें और कहें कि ‘हालांकि यह बहुत मुश्किल जवाब है’, अच्छा होगा आप मुझे कितना देने के इच्छुक हैं. कई मामलों में इंटरव्यू लेने वाला कहता है कि आपको बाद में बता देंगे. ऐसे में कहें- ‘ठीक है, काम को देखते हुए मुझे ठीक सैलरी की उम्मीद है.’

साक्षात्कार की तैयारी कैसे करें?

व्यक्तिगत साक्षात्कार की पूरी प्रक्रिया को तीन अलग-अलग चरणों में बॉंट सकते है:

  1. साक्षात्कार के लिए तैयारी
  2. साक्षात्कार के दिन, और
  3. साक्षात्कार के समय

साक्षात्कार के लिए तैयारी

ऐसी अवस्था में आपको कार्य करने का परामर्श दिया जाता हैं :

  1. वर्तमान मामलों एवं घटनाक्रमों, वर्तमान महत्वपूर्ण राष्ट्रीय एवं अन्तराष्ट्रीय समस्याओं एवं सामान्य रोचक विषयों के सम्बन्ध में पूरा ज्ञान प्राप्त करें यह आप समाचार पत्रों के नियमित पाठन, रेडियो सुनने तथा टेलीविजन पर चर्चा को देख कर सकते है।
  2. संगठन से संबंधित सूचनाएं जैसे मुख्य कार्य, पृष्ठभूमि, विस्तार एवं अधिग्रहण योजनाएं आदि एकत्रित करें। ये सभी सूचनाएं संगठन की वार्षिक रिपोर्ट अथवा उसकी वैबसाइट से प्राप्त की जा सकती हैं।
  3. जिस पद के लिये आवेदन किया है। उसके कार्यों का विवरण एवं उस के सम्बन्ध मे ज्ञान प्राप्त करें।
  4. अपनी विशेषज्ञता क्षेत्र के ज्ञान को ताजा करना चाहिए अपने अध्ययन किए गए विषयों की पुनरावृत्ति करें।
  5. अपनी योग्यताओं एवं कमियों की सूची तैयार कर लें।
  6. यदि संभव हो तो साक्षात्कार स्थल को जाकर देख लें। पहले से उस स्थल को देखने से साक्षात्कार के दिन समय की पाबन्दी को सुनिश्चित करने है तथा घबराहट को कम करने में मदद मिलती है।
  7. अपने सभी प्रलेख एवं प्रमाण-पत्रों को साक्षात्कार के लिये प्राप्त हुए आमन्त्रण पत्र सहित एक फोल्डर में सहेज कर रख लें।

साक्षात्कार के दिन

  1. पहली रात कोअच्छी नींद ले तथा प्रात: काल में उठ जाएं।
  2. अपनी नित्य क्रियाओं को करें।
  3. यह सुनिश्चित करें कि आप स्वच्छ एवं साफ दिखाई दें भलीभांति प्रैस किये कपड़े तथा पॉलिस किये हुए जूते पहनें।
  4. आवश्यक कागजों तथा दस्तावेजों के फोल्डर को लेकर साक्षात्कार स्थल पर समय पर पहुॅंच जाएं।
  5. साक्षात्कार के स्थान पर पहुंचकर हाथ मुंह धोएं, बालों में कंघी करें और अपने व्यक्तित्व को निहारें।
  6. साक्षात्कार स्थल पर अपनी बारी का इन्तजार करें।
  7. इन्तजार की अवधि में आप पढ़ने के लिए कंपनी के साहित्य/विवरणिका की मांग सकते हैं।

साक्षात्कार के समय

साक्षात्कार के कमरे के भीतर बातों को ध्यान में रखें

1. कमरे में प्रवेश करना सर्वाधिक महत्व रखता हैं ।खटखटाएं, अभिवादन करे तथा दरवाजा धीरे से बंद कर दें, आत्मविश्वास से आगे बढ़ें, जब तक आप से कहा न जाये, बैठें नहीं। यदि साक्षात्कारकर्ता अपना हाथ आगे बढ़ाता है तो उससे आत्मविश्वास से हाथ मिलाएं। याद रखें, पहला प्रभाव बड़ा महत्वपूर्ण होता है। जब आप प्रवेश करते है तो आपकी चाल, आत्मविश्वास तथा बाह्य आचरण पर निगाह रखी जाती है।

2. प्रत्याशी के हाव-भाव को भी ध्यान पूर्वक देखा जाता है। ठीक ढंग से बैंठे तथा थोड़ा झुकें क्योंकि यह आपकी रूचि एवं ध्यान को दर्शाता है। पैन, कागज, चश्मा तथा मेज पर रखी वस्तुओ जैसे कि पेपरवकट को व्यर्थ में न छेडें। अधीरता, ऐंठन, खुजलाना आदि आत्मविश्वास एवं एकाग्रता की कमी को दर्शाता है।

3. उत्तर देते समय नीचे दी गई बातों पर ध्यान दें।

  • सुनो, सोचो और फिर बोलो।
  • उत्तर देने मे जल्दी न करें, थोड़ा समय लें।
  • यदि आपने प्रश्न को नहीं सुना अथवा उसे समझ नहीं पाये हैं तो दोहराने के लिये कहें अन्दाजा लगाकर गलत उत्तर नहीं दें।
  • यदि आपको उत्तर नहीं आता है तो स्पष्ट रूप से बता दें कि आपको आता नहीं है।
  • यदि आपने कोई गलती की है तो उसे स्वीकार कर लें।
  • आपका उत्तर संक्षिप्त एवं स्पष्ट होना चाहिए साक्षात्कार में अधिक बोलने वाले व्यक्ति को कोई पसंद नहीं करता है।
  • झूठ न बोलें आपके जवाब में ईमानदारी होनी चाहिए।
  • गुस्सा न करे और नही धैर्य खोएं, भले ही प्रश्नो से आपके सन्मान को चोट पहुंच रही है। याद रहे, ऐसे प्रश्न आपके धैर्य एवं भावनाओं की जांच के लिये पूछे जा सकते है।
  • बीच में टोकें नही तथा ऑंख से ऑंख मिलाए रखें।
  • ‘मेरा मतलब है कि’ ‘ठीक है’ okay जैसे शब्दों से बचें।
  • प्रश्नों का उत्तर देते समय उत्साह, हिम्मत एवं ऊर्जाका प्रदर्शन करें इससे आभास होता है कि आपकी पद में वास्तविक रूचि है।
  • प्रश्न तभी पूछें यदि आपसे ऐसा करने के लिये कहा गया है।
  • पूरे साक्षात्कार के दौरान शिष्टता को बनाए रखें। धन्यवाद ‘माफ कीजिए’, जी ठीक है जैसे शब्दों का उचित अवसरों पर प्रयोग आपकी
  • शिष्टता को दर्शाता है।
  • सामान्य रहें किसी की नकल न करें।
  • साक्षात्कार की समाप्ति पर साक्षात्कारकर्ता का मुस्कराहट के साथ धन्यवाद करें।
  • आप किस प्रकार मेज से अपना सामान उठाते हैं, कैसे उठते हैं तथा कमरे से बाहर आते हैं इन सब बातों पर निगाह रखी जाती है इन चेष्टाओं में आत्म-विश्वास झलकना चाहिए।
  • आपकी चाल विश्वास से पूर्ण होनी चाहिए। साक्षात्कारकर्ता को सामने रखकर दरवाजा खोल तथा कक्ष छोड़ने पर दरवाजा बदं करे।
  • परिसर छोड़ने से पहले स्वागतकर्ता अथवा सचिव को नमस्ते करना न भूले।

4. साक्षात्कारकर्ता के कुछ विशेष पश्न

  • आप अपने आपको प्रस्तुतीकरण इस पद के योग्य क्यों समझते है?
  • कृपया कुछ अपने सम्बन्ध में और अपने परिवार की पृष्ठभूमि के सम्बन्ध मे बताएं
  • आप में क्या गुण है और क्या कमियां है?
  • आप इस कपंनी में क्यो नौकरी करना चाहते है?
  • आपने यही क्षेत्र क्यों चुना?
  • आपके जीवन का लक्ष्य क्या है
  • आपके शाकै क्या है तथा अपना खाली समय किस पक्रार से व्यतीत करते है।
  • आपकी वेतन संबन्धी क्या अपेक्षाएं है।

5. एक साक्षात्कार प्रत्याशी में क्या देखना चाहते है।

  • व्यक्तित्व
  • विषय/बौद्धिक ज्ञान
  • शिक्षा एव अनुभव
  • व्यक्तिगत योग्यताएं जैसे कि इमानदारी, निष्ठा, सहनशीलता, धैर्य नमत्रा, तत्परता, आदि

6. साक्षात्कार में अस्वीकृति के कुछ सामान्य कारण

  • विनम्रता/शिष्टाचार की कमी
  • गम्भीरता की कमी
  • अव्यवस्थित एवं अस्पष्ट उत्तर
  • समय की पाबन्दी नहीं
  • ज्ञान की कमी
  • ऊचीं आवाज
  • विश्वास की कमी/अधिकता

Spread the love

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

  • Sign up
Lost your password? Please enter your username or email address. You will receive a link to create a new password via email.
We do not share your personal details with anyone.
×
×

Cart