GK - General Knowledge

Bharat ka samvidhan banane me kitna samay laga

Bharat ka samvidhan

Bharat ka samvidhan banane me kitna samay laga puri jankari Hindi me niche di gai hai. Asha karte hai ki aap pura post padhenge.

Bharat ka samvidhan

हमारे भारत देश के संविधान को पूरा करने में 2 साल 11 महीने और 18 दिन लगे थे। संविधान निर्माताओं ने 60 देशों के संविधान का संदर्भ लिया। संविधान बनाने पर कुल व्यय लगभग 64 लाख लगा था। संविधान सभा, जो की पहली बार 9 दिसंबर, 1946 को एक दूसरे से मिले थे, संविधान को अंतिम मसौदे के साथ आने में 2 साल 11 महीने और 18 दिन का समय लगा, जिसे 26 नवंबर, 1949 को मंजूरी दे दी गई थी। इस अवधि के दौरान इसने कुल 165 दिनों को कवर करते हुए ग्यारह सत्र आयोजित किए। इनमें से 114 दिन ड्राफ्ट संविधान के विचार पर खर्च किए गए थे।

24 जनवरी, 1950 को एक बार फिर विधानसभा की बैठक हुई, जब सदस्यों ने भारत के संविधान में अपने हस्ताक्षर किए। संविधान सभा के 389 सदस्यों में से, उस दिन केवल 284 उपस्थित थे और संविधान पर हस्ताक्षर किए थे। यह प्रस्तावना में उल्लिखित तारीख भी है जिस पर भारत के लोगों ने अधिनियमित किया था और खुद को यह संविधान दिया था। संविधान के कुछ प्रावधान 26 नवंबर, 1949 को लागू हुए और प्रमुख हिस्सा 26 जनवरी, 1950 को लागू हुआ।

Bharat ka Samvidhan se sambandhit question and answers

प्रश्न1: भारत का संविधान ( bharat ka samvidhan ) बनने में कितना समय लगा ?
उत्तर: – 2 साल, 11 महीने, 18 दिन

प्रश्न2: भारत की संविधान सभा के संवैधानिक सलाहकार किसे नियुक्त किया गया था ?
उत्तर:  बी. एन. राव

प्रश्न3: 1895 में संविधान सभा के गठन की मांग किसने की थी?
उत्तर: बाल गंगाधर तिलक

प्रश्न4: किस मूल रियासत के प्रतिनिधियों ने संविधान सभा में भाग नहीं लिया था?
उत्तर: हैदराबाद

प्रश्न5: संविधान सभा के सदस्यों द्वारा संविधान को कब अंतिम रूप दिया गया था?
उत्तर: 24 जनवरी 1950 को

प्रश्न6: भारतीय संविधान सभा की पहली बैठक कब और किसकी अध्यक्षता की हुई थी ?
उत्तर:  9 दिसंबर 1946 को डा. सच्चिदानन्द सिन्हा की अध्यक्षता में

प्रश्न7: संविधान का पहला वाचन कब तक हुआ था?
उत्तर: 4 नवंबर 1948 से 9 नवंबर 1948 तक

प्रश्न8: संविधान का दूसरा वाचन कब तक हुआ था?
उत्तर: 15 नवंबर 1948 से 17 अक्टूबर 1949 तक

प्रश्न9: बी. आर. अम्बेडकर संविधान सभा के लिए कहाँ चुने गए थे?
उत्तर: बंगाल

प्रश्न10: संविधान का तीसरा वाचन कब तक हुआ था?
उत्तर: 14 नवंबर, 1949 से 26 नवंबर, 1949 तक

प्रश्न11: भारतीय संविधान सभा का प्रथम स्थायी अध्यक्ष किसे चुना गया था ?
उत्तर: 11 दिसंबर 1946 में डा. राजेंद्र प्रसाद को

प्रश्न12: संविधान सभा की संचालन समिति के अध्यक्ष कौन थे?
उत्तर: डॉक्टर राजेंद्र प्रसाद

प्रश्न13: संविधान सभा का संवैधानिक सलाहकार किसे नियुक्त किया गया था?
उत्तर: बी.एन. राव को

प्रश्न14: संविधान के मसौदे पर कितने दिनों तक बहस होती है?
उत्तर: 114 दिन तक

प्रश्न15: संविधान सभा की संविधान समिति का गठन कब हुआ?
उत्तर: 29 अगस्त, 1947 ई. में

प्रश्न16: संविधान सभा में कितने सत्र आयोजित किए गए थे?
उत्तर: 12

प्रश्न17: भारतीय संविधान कब बना था ?
उत्तर: 26 नवम्बर 1949 (इसी दिन संविधान पर अध्यक्ष के हस्ताक्षर भी हो गए थे )

प्रश्न18: संविधान सभा को भारतीय संसद में कब बदला गया था?
उत्तर: 24 जनवरी 1950 को

प्रश्न19: जवाहरलाल नेहरू ने संविधान से पहले संविधान के मसौदे को कब पेश किया?
उत्तर: जब भारत में संविधान 26 जनवरी 1950 को ई. में लागू हुआ

प्रश्न20: भारत कब गणतंत्र बना?
उत्तर21: 26 जनवरी 1950 को

प्रश्न22: Bharat ka Samvidhan कब लागू किया गया ?
उत्तर: 26 जनवरी 1950

प्रश्न23: 26 जनवरी 1950 को संविधान लागू करने का क्या कारण था?
उत्तर: क्योंकि, पहला स्वतंत्रता दिवस 26 जनवरी, 1930 को भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस द्वारा मनाया गया था।

प्रश्न24: संविधान सभा की स्थायी समिति के अध्यक्ष कौन थे?
उत्तर: जवाहर लाल नेहरू

प्रश्न25: भारतीय राष्ट्रीय ध्वज को संविधान सभा द्वारा कब मान्यता दी गई थी?
उत्तर: 22 जुलाई, 1947 को

प्रश्न26: भारतीय संविधान का जनक किसे माना जाता है ?
उत्तर: डा. भीम राव अम्बेडकर को

प्रश्न27: कब राष्ट्रपति को आधिकारिक रूप से मान्यता दी गई थी?
उत्तर: 26 जनवरी 1950 को

प्रश्न28: संविधान सभा के गठन के लिए सबसे पहले संविधान विचार किसने प्रस्तुत किया था?
उत्तर: स्वराज पार्टी, 1924 में

प्रश्न29: भारत के राष्ट्रीय गान की आधिकारिक मान्यता किस तिथि को दी गई थी?
उत्तर: 24 जनवरी 1950 को

प्रश्न30: भारतीय संविधान का उद्देश्य प्रस्ताव कब और किसने प्रस्तुत किया ?
उत्तर: 13 दिसंबर 1946 को पं. जवाहर लाल नेहरु ने

प्रश्न31: संविधान सभा ने भारत के संविधान को कब मंजूरी दी?
उत्तर: 26 नवंबर 1949 को

प्रश्न32: भारतीय संविधान के प्रारूप समिति के अध्यक्ष कौन थे ?
उत्तर: डा. भीम राव अम्बेडकर

प्रश्न33: संविधान सभा का पहला सत्र कहाँ था?
उत्तर: दिल्ली में

प्रश्न34: भारतीय संविधान सभा की अंतिम बैठक कब हुई थी ?
उत्तर: 24 जनवरी 1950

प्रश्न35: संविधान सभा के सभी निर्णयों का आधार क्या था?
उत्तर: सहमति और समायोजन के आधार पर

प्रश्न36: भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस ने पहली बार संविधान सभा का गठन करने की मांग कब की थी
उत्तर: 1936 में

प्रश्न37: मूल संविधान में कितने अनुछेद थे?
उत्तर: 395

प्रश्न38: मूल संविधान में कितनी अनुसूचियाँ थीं?
उत्तर: 8

प्रश्न39: संविधान सभा के पुनर्गठन फलस्वरूप 1947 तक संविधान सभा के सदस्यों की संख्या कितनी बनी रही?
उतर: 299

प्रश्न40: संविधान के कितने अध्याय हैं?
उत्तर: 22

प्रश्न41: किसने औपचारिक रूप से संविधान सभा प्रस्तुत की है?
उतर: एम एन राय ने

प्रश्न42: वर्तमान में संविधान के कितने अनुच्छेद हैं?
उत्तर: वर्तमान में संविधान में 395 अनुच्छेद हैं

प्रश्न42: संविधान सभा में रियासतों के कितने प्रतिनिधि थे?
उत्तर: 70

प्रश्न43: वर्तमान में संविधान में कितनी अनुसूचियाँ हैं
उत्तर: 12

प्रश्न44: भारत में संविधान सभा के गठन का आधार क्या था?
उतर: कैबिनेट मिशन योजना 1946

प्रश्न45: 1940 में, ब्रिटिश सरकार ने पहली बार संविधान सभा की मांग को मान्यता दी थी जिसके तहत आधिकारिक तौर पर स्वीकार किया गया था?
उत्तर: अगस्त प्रस्ताव

प्रश्न46: संवधान सभा के अस्थाई अध्यक्ष कौन थे?
उतर: डॉ. सच्चिदानंद सिन्हा

प्रश्न47: नेहरू जी ने उद्देश्य प्रस्ताव कब प्रस्तुत किया था?
उत्तर: 13 दिसंबर 1946

प्रश्न48: संवधान सभा के सदस्यों की संख्यां कितनी थी?
उतर: 389

प्रश्न49: संविधान सभा द्वारा वस्तुनिष्ठ प्रस्ताव कब स्वीकार किया गया था?
उत्तर: 22 जनवरी 1947 को

प्रश्न50: संविधान सभा के सदस्यों में अनुसूचित जनजाति के सदस्यों की संख्या कितनी थी?
उत्तर: 33

 

यदि आप भारतीय संविधान के निर्माण के विभिन्न चरणों को जानना चाहते है तो यह पोस्ट पढ़ें

प्रिये पाठक यदि आपको Bharat ka Samvidhan से सम्बंधित प्रश्न उत्तर का यह पोस्ट अच्छा लगा तो दोस्तों को शेयर जरूर करें।
शेयर करने के लिए निचे सोशल मीडिया का बटन दिया गया है।

Leave a reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.