बैंक क्या है? सरकारी बैंक के नाम और सूची

आज की दुनिया में, लोग अपनी मेहनत के गाढ़ी कमाई बैंकों और वित्तीय संस्थानों में सुरक्षा की चिंता किए बिना जमा कर रहे हैं।  आज हम सभी भारतवासी हमारे देश में मौजूद विभिन्न बैंकिंग संस्थानों द्वारा दी जाने वाली विभिन्न योजनाओं का उपयोग करके पूर्ण लाभों का आनंद ले सकते हैं, जिन्हें हमारे पूर्वजों ने अनसुना किया था।

सरकारी बैंक के नाम

पहले के ज़माने में, कोई नियमित प्रणाली नहीं थी जो लोगों को धन की सुरक्षा करने की जिम्मेवारी ले, इस वजह से ज्यादातर लोग अपने घरों में ही धन को रखते थे।

भारत में राष्ट्रीयकृत बैंक की शुरआत

भारत में बैंकिंग प्रणाली की अवधारणा ब्रिटिश काल के दौरान ही  विकसित की गई थी। ब्रिटिश ईस्ट इंडिया कंपनी को तीन बैंकों को स्थापित करने का श्रेय है, 1809 में बैंक ऑफ बंगाल, 1840 में बैंक ऑफ बॉम्बे और 1843 में बैंक ऑफ मद्रास। बाद में  इन तीनों बैंकों को मिला दिया गया और इंपीरियल बैंक (Imperial Bank) अस्तित्व में आ गया जिसे 1955 के दौरान एसबीआई ने अपने अधिकार में ले लिया। अब आइए बैंक की अवधारणा को समझते हैं।

बैंक क्या है?

बैंक एक वित्तीय संस्थान है जिसे मुद्रा जमा करने और जरूरतमंदों को ऋण देने के लिए लाइसेंस दिया जाता है। बैंक मुद्रा विनिमय, धन प्रबंधन, वित्तीय सेवा, सुरक्षित जमा बॉक्स आदि के रूप में भी कार्य करते हैं।

व्यवसायी और आम नागरिको का धन जमा करने और ऋण देने के अलावा बैंक का मुख्य कार्य, भुगतानों को स्वीकार करना, धन की सुरक्षा करना और प्रतिभूतियों में धन का निवेश करना शामिल है।

भारत में बैंकिंग क्षेत्र का वर्गीकरण

बैंकिंग क्षेत्र को अनुसूचित और गैर अनुसूचित दो व्यापक श्रेणियों में वर्गीकृत किया गया है। अनुसूचित बैंक भारतीय रिज़र्व बैंक अधिनियम 1934 की दूसरी अनुसूची के अंतर्गत आते हैं। भारत में अनुसूचित बैंकों की सूची को निम्नलिखित प्रकार से वर्गीकृत किया गया है।

• राष्ट्रीयकृत बैंक
• विदेशी बैंक
• क्षेत्रीय ग्रामीण बैंक
• भारतीय स्टेट बैंक और उसके सहयोगी
• अन्य निजी क्षेत्र के बैंक

राष्ट्रीयकृत बैंक क्या है?

राष्ट्रीयकरण से तात्पर्य राज्य या केंद्र सरकार द्वारा संचालित या स्वामित्व वाली सार्वजनिक क्षेत्र की परिसंपत्तियों के हस्तांतरण से है। भारत में, जो बैंक पहले निजी क्षेत्र के तहत काम कर रहे थे, उन्हें राष्ट्रीयकरण के अधिनियम द्वारा सार्वजनिक क्षेत्र में स्थानांतरित कर दिया गया था और इस प्रकार राष्ट्रीयकृत बैंक अस्तित्व में आए।

भारत में बैंकिंग का इतिहास बताता है कि स्वतंत्रता के बाद, भारत सरकार ने राष्ट्र के आर्थिक विकास में सक्रिय भूमिका निभाने के लिए विभिन्न उपायों की शुरुआत की, जिसके परिणामस्वरूप अप्रैल 1935 में भारतीय रिज़र्व बैंक की स्थापना हुई और बाद में इसका राष्ट्रीयकरण हुआ।

स्वतंत्रता के बाद, भारत सरकार ने देश की भलाई के लिए एक नियोजित आर्थिक विकास को अपनाया। तत्कालीन प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी के नेतृत्व में भारत सरकार ने भारतीय रिज़र्व बैंक के नियामक प्राधिकरण के तहत 19 जुलाई, 1969 से भारत के 14 सबसे बड़े वाणिज्यिक बैंकों के राष्ट्रीयकरण का अध्यादेश जारी किया।

1980 के दौरान, 6 और वाणिज्यिक बैंकों ने भारतीय रिज़र्व बैंक नियमों का पालन किया और राष्ट्रीयकृत कवर के तहत आए। 1990 के दशक तक, उन में लगभग 4% सालाना की वृद्धि हुई। 1990 की शुरुआत के दौरान, भारत सरकार ने उदारीकरण की नीति को अपनाया और देश में कुछ निजी बैंकों को लाइसेंस दिया, जिसने भारत की अर्थव्यवस्था के तेजी से विकास में मदद की।

बैंकों के राष्ट्रीयकरण के कारण

• बैंकिंग क्षेत्र के विस्तार के लिए
• बैंकिंग की आदतें विकसित करने के लिए
• समाज कल्याण के लिए
• सेक्टर ऋण देने को प्राथमिकता देने के लिए
• निजी एकाधिकार को नियंत्रित करने के लिए
• क्षेत्रीय असंतुलन को कम करना
भारत में राष्ट्रीयकृत बैंकों की सूची

भारत में राष्ट्रीयकृत बैंकों की सूची (सरकारी बैंक के नाम)

सेंट्रल बैंक ऑफ इंडिया – RBI ने अपनी आधिकारिक वेबसाइट में निम्नलिखित 19 बैंकों को राष्ट्रीयकृत बैंक के रूप में सूचीबद्ध किया है।

क्र. स. बैंक के नाम राष्ट्रीयकरण का वर्ष
01 इलाहाबाद बैंक 1969
02 पंजाब एंड सिंध बैंक 1969
03 बैंक ऑफ बड़ौदा 1969
04 बैंक ऑफ इंडिया 1969
05 पंजाब नेशनल बैंक 1969
06 बैंक ऑफ महाराष्ट्र 1969
07 केनरा बैंक 1969
08 यूनियन बैंक ऑफ इंडिया 1969
09 सेंट्रल बैंक ऑफ इंडिया 1969
10 देना बैंक 1969
11 यूको बैंक 1969
12 इंडियन ओवरसीज बैंक 1969
13 यूनाइटेड बैंक ऑफ इंडिया 1969
14 इंडियन बैंक 1969
15 सिंडिकेट बैंक 1969
16 विजया बैंक 1969
17 आंध्र बैंक 1980
18 कॉर्पोरेशन बैंक 1980
19 ओरिएंटल बैंक ऑफ कॉमर्स 1980

भारत में प्रमुख राष्ट्रीयकृत बैंक भारतीय स्टेट बैंक (SBI), पंजाब नेशनल बैंक (PNB), बैंक ऑफ बड़ौदा (BOB), केनरा बैंक और यूनियन बैंक ऑफ़ इंडिया, आदि है।

भारत में गणतंत्र दिवस कब मनाया जाता है

दोस्तों यदि आपको हमारा यह पोस्ट ” सरकारी बैंक के नाम ” अच्छा लगा होतो सोशल मीडिया पर शेयर जरुर करें।

Spread the love

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

  • Sign up
Lost your password? Please enter your username or email address. You will receive a link to create a new password via email.
We do not share your personal details with anyone.
×
×

Cart